National Youth Day 2022

National Youth Day 2022: देखा जाए तो किसी भी देश का भविष्य उसके युवाओ पर निर्भर करता है एक नए प्रतिभा के आ जाने से न केवल सिर्फ देश की प्रगति होती है बल्कि देश का विकास भी सही राह पर होता है देश के युवाओ के मार्गदर्शन के लिए प्रत्येक वर्ष 12 जनवरी को राष्ट्रिय युवा दिवस मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते है राष्ट्रिय युवा दिवस 12 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है चलिए जानते है राष्ट्रिय युवा दिवस की सम्पूर्ण कहानी हिंदी भाषा में जुड़े रहिये हमारे साथ आर्टिकल में।

National Youth Day 2022  

स्वामी विवेकानंद जी का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता के हुआ था उनके गुरु स्वामी रामकृष्ण परमहंस थे विवेकानंद जी ने 25 वर्ष की आयु में गेरुआ वस्त्र पहन लिया था उसके बाद उन्होंने पैदल ही पूरे भारत की यात्रा की।

विवेकानंद जी ने वर्ष 1893 में शिकागो में आयोजित विश्व धर्म सम्मलेन में हिन्दू धर्म का प्रतिनिधित्व किया और हिंदी धर्म को सार्वजनिक पहचान दिलाई। गुरु रविंद्रनाथ ठाकुर ने उनके बारे में कहा था यदि आप भारत को जानना चाहते है तो आप स्वामी विवेकानंद को पढ़िए क्युकी उनमे आप सब कुछ सकारात्मक ही पायंगे नकारात्मक कुछ भी नहीं।

0 votes, 0 avg
0
Created on

NATIONAL YOUTH DAY QUIZ

1 / 20

Which one of the below is a famous speech by Swami Vivekananda?

2 / 20

The birthday of Swami Vivekananda is celebrated in India as?

3 / 20

When did Vivekananda meet Ramakrishna for the first time?

4 / 20

Name the monthly magazine started by Swami Vivekananda in 1899?

5 / 20

What was the birth name of Swami Vivekananda?

6 / 20

When was Swami Vivekananda born?

7 / 20

Which is the birthplace of Swami Vivekananda?

8 / 20

Where is the Headquarters of Ramakrishna Math and Ramakrishna Misson?

9 / 20

Name the train launched by the Indian Railways to commemorate the 150th birth anniversary of Swami Vivekananda?

10 / 20

Whose chief disciple was Swami Vivekananda?

11 / 20

What was the name of Swami Vivekananda’s mother?

12 / 20

What was the name of Swami Vivekananda’s father?

13 / 20

In which year Swami Vivekananda represented India at the Parliament of the World’s Religions?

14 / 20

Swami Vivekananda was born during which festival?

15 / 20

When did Swami Vivekananda die?

16 / 20

Which of the below is not the book written by Swami Vivekananda?

17 / 20

Where was Parliament of the World’s Religions held in 1893?

18 / 20

At what age, Swami Vivekananda Died?

19 / 20

Which one of the below organizations was founded by Swami Vivekananda?

20 / 20

When and where did Sister Nivedita meet Swami Vivekananda for the first time?

Your score is

The average score is 0%

0%

महात्मा गौतम बुद्ध के बाद स्वामी विवेकानंद भारत के पहले धार्मिक सांस्कृतिक राजदूत थे उन्होंने दिखाया की विश्व की संस्कृति में भारत का काफी बड़ा योगदान है उन्होंने पहचान दी की हम कौन है और भारतीय संस्कृति क्या है इतना ही नहीं उन्होंने हिन्दू धर्म के एकीकरण में भी अहम् भूमिका निभाई।

उन्होंने अपने गुरु श्री रामकृष्ण परमहंस की शिक्षाओ का प्रचार करने के लिए राम कृष्ण मिशन की स्थापना की और आधुनिक विश्व के संदर्भ में कई प्राचीन हिन्दू शास्त्रों की व्याख्या की।

उन्होंने योग को लोकप्रिय बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई उन्होंने युवाओ को चरित्र निर्माण की और प्रेरित किया और कहा मनुष्य को महान बनने के लिए संदेह ईर्ष्या और द्वेष छोड़ना चाहिए

साथ ही उनका मन्ना था की आत्मा का कोई लिंग नहीं होता है अतः समाज में महिलाओ का वही सम्मान और स्थान होना चाहिए जो पुरुषो का होता है।

National Youth Day Swami Vivekananda

National Youth Day Swami Vivekananda

स्वमी विवेकानंद ने युवाओ को चरित्र निर्माण के लिए 5 सूत्र दिए

  • आत्मविश्वास
  • आत्मत्याग
  • आत्मसंयम
  • आत्मनिर्भरता
  • आत्मज्ञान

इसमें कोई संदेह की बात नहीं है की विवेकानंद जी ने भारतीय संस्कृति को राष्ट्रिय एवं अंतरास्ट्रीय मंच पर पहचान दी इसीलिए जब संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा वर्ष 1985 को अंतरास्ट्रीय युवा वर्ष घोषित किया गया तब इस बात को मद्देनजर रखते हुए भारत सरकार ने घोषणा की थी की वर्ष 1985 से प्रत्येक वर्ष 12 जनवरी स्वामी विवेकानंद जी के जन्मदिवस पर राष्ट्रिय युवा दिवस के रूप में पूरे देश भर में मनाया जायेगा।

स्वामी जी का दर्शन उनका जीवन उनका कार्य और उनके आदर्श भारतीय युवा के लिए प्रेरणा के स्त्रोत शाबित हो सकते थे।

राष्ट्रिय युवा दिवस भारत के कैसे मनाया जाता है ?

इस दिन देश भर के विद्यालयों और महाविद्यालयों में तरह तरह के कार्यक्रम होते है रैलिया निकली जाती है योगासन की स्पर्धा आयोजित  की जाती है पूजा पाठ होता है व्याख्या होते है और विवेकानंद साहित्य की प्रदर्शनी लगती है।

0 votes, 0 avg
0
Created on

NATIONAL YOUTH DAY QUIZ

1 / 20

When did Vivekananda meet Ramakrishna for the first time?

2 / 20

Swami Vivekananda was born during which festival?

3 / 20

When and where did Sister Nivedita meet Swami Vivekananda for the first time?

4 / 20

In which year Swami Vivekananda represented India at the Parliament of the World’s Religions?

5 / 20

Which of the below is not the book written by Swami Vivekananda?

6 / 20

Whose chief disciple was Swami Vivekananda?

7 / 20

Which is the birthplace of Swami Vivekananda?

8 / 20

At what age, Swami Vivekananda Died?

9 / 20

When was Swami Vivekananda born?

10 / 20

Name the monthly magazine started by Swami Vivekananda in 1899?

11 / 20

The birthday of Swami Vivekananda is celebrated in India as?

12 / 20

Which one of the below organizations was founded by Swami Vivekananda?

13 / 20

What was the name of Swami Vivekananda’s mother?

14 / 20

What was the birth name of Swami Vivekananda?

15 / 20

Name the train launched by the Indian Railways to commemorate the 150th birth anniversary of Swami Vivekananda?

16 / 20

When did Swami Vivekananda die?

17 / 20

Which one of the below is a famous speech by Swami Vivekananda?

18 / 20

Where is the Headquarters of Ramakrishna Math and Ramakrishna Misson?

19 / 20

Where was Parliament of the World’s Religions held in 1893?

20 / 20

What was the name of Swami Vivekananda’s father?

Your score is

The average score is 0%

0%

इसके अलावा स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन के अवसर पर देशभर में फैले रामकृष्ण मिशन के केंद्रों और बेलूर मठ में फैले संस्कृति और परम्परा को समृद्ध करने के लिए कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

स्वामी विवेकानंद के बारे में रोचक तथ्य

  • बचपन में विवेकानंद जी की माँ ने उनका नाम वीरेश्वर रखा था साथ ही उन्हें बिली कहकर बुलाती थी बाद में उनका नाम नरेंद्र नाथ दत्त हो गया।
  • अपने पिताजी की मृत्यु के बाद स्वामी जी का जीवन गरीबी में बीता कई दिन उनकी माता और बहन को प्रत्येक दिन के भोजन के लिए अधिक संघर्ष करना पड़ता था इसलिए स्वामी जी कई बार दो दो दिन तक भूके रहते थे ताकि परिवार के अन्य लोगो को पर्याप्त भोजन मिल सके।
  • BA की डिग्री होने के बावजूद स्वामी जी को नौकरी की तलाश में भटकना पड़ा जिसके कारण वह लगभग नास्तिक हो गए थे और उनका भगवन पर से विश्वास भी उठ गया।
  • स्वामी विवेकानंद जी में इतनी ज्यादा सादगी थी की उन्होंने वर्ष 1896 लंदन में कचौरिया भी बनायीं।
  • स्वामी विवेकानंद जी ने भविष्य वाणी की थी की वह 40 वर्ष की आयु को प्राप्त नहीं कर पायंगे उनकी यह बात सच तब साबित हुई जब 4 जुलाई 1902 को जब वह 39 वर्ष के थे और उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए उन्होंने समाधी की अवस्था में अपने प्राण त्याग दिए उनकी मृत्यु की वजह तीसरी बार दिल का दौरा था।

Youth Day in India

  • एक बार विवेकानंद जी विदेश गए जहा उनसे मिलने बोहोत सारे लोग आये हुए थे उन लोगो ने स्वामी जी से हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ आगे किया और इंग्लिश में hello बोला जिसका जवाब स्वामी जी ने बड़ी नम्रता से अपने दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते कहकर दिया,
  • यह सुनकर सभी लोगो को लगा की शायद स्वामी जी को अंग्रेजी नहीं आती और उनमे से एक लोग ने स्वामी जी से पूछा आप कैसे है तो इसका जवाब में स्वामी जी ने बोला I am fine Thank You.
  • और वह खड़े सभी लोग आस्चर्यचकित हो गए तो लोगो ने पूछा की जब हमने सवाल अंग्रेजी में किया तो आपने उसका जवाब हिंदी में दिया और जब अपने आपसे सवाल हिंदी में किया तो अपने उसका जवाब अंग्रेजी में दिया इसका क्या कारण है।
  • तो इसके जवाब में स्वामी जी ने बोला जब आप अपनी माँ का सम्मान कर रहे थे तो मैंने अपनी माँ का सम्मान किया और जब अपने मेरी माँ का सम्मान किया तो मैंने आपकी माँ का सम्मान किया इसीलिए स्वामी जी का प्रत्येक भारतीय के लिए संदेश है,

उठो जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाये दोस्तों इसीलिए प्रत्येक वर्ष राष्ट्रिय युवा दिवस मनाया जाता है।

अगर आपको यह आर्टिकल (National Youth Day 2022) अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और इसी तरह की ज्ञानवर्धक जानकारिया पाने के लिए निचे दिए बॉक्स में अपना ईमेल डालकर हमारी वेबसाइट को सब्सक्राइब करे। आपका कीमती समय देने के लिए बोहोत बोहोत धन्यवाद।

नमस्ते मेरा नाम अजीत ठाकुर ज्ञानवर्ल्ड में आपका स्वागत है, मै पिछले 4 सालो से कंप्यूटर सॉफ्टवेयर टीचर हूँ और साथ ही ज्ञानवर्ल्ड वेबसाइट का लेखक हूँ। मेरा उद्देशय और इस वेबसाइट के माध्यम से ज्ञानवर्धक जानकारियां उपलब्ध करवाना है जो विभिन्न विषयो में आपका ज्ञान बढ़ाएगी। उम्मीद करता हूँ आपको यह एजुकेशनल वेबसाइट पसंद आएगी

Related Posts

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha: मुग़ल साम्रज्य जिन्होंने भारत पर लगभग 331 सालो तक राज किया मुग़ल साम्राज्य का शासन वर्ष 1526ईo से लेकर वर्ष 1857ईo…

Bhangarh Fort Story In Hindi

Bhangarh Fort Story In Hindi – Bhangarh Story In Hindi

Bhangarh Fort Story In Hindi: कहा जाता है की राजस्थान एक ऐसी जगह है जहाँ कोई न कोई कहानी या राज दफ़न है और आज की यह…

, Doodle For Google 2022 Winner

Doodle For Google 2022 I Doodle For Google 2022 India Winner

Doodle For Google 2022: 14 नवंबर बाल दिवस के दिन पर Google ने Doodle For Google 2022 के विजेता जी घोषणा की। जानिए श्लोक मुखर्जी के बनाये…

करवा चौथ की रात को पति पत्नी क्या करते है

Karva Chauth Ka Vrat Kab Hai 2022 – पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, कथा

Karva Chauth Ka Vrat Kab Hai: कार्तिक मास की शुरुआत होते ही त्योहारों का मौसम शुरू हो जाता है, कार्तिक मास की हर तिथि का महत्व है…

Generation Of Computer In Hindi

Generation Of Computer In Hindi

Generation Of Computer In Hindi: नमस्कार दोस्तों ज्ञानवर्ल्ड में आपका एक बार फिर से स्वागत है आज इस आर्टिकल माध्यम से हम कंप्यूटर की पीढ़ियों के बारे में…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *