Teddy Bear Story in Hindi

Teddy Bear Story in Hindi: टेडी बेयर का नाम लेते ही आँखों के सामने एक सॉफ्ट और प्यारे से खिलोने की तस्वीर दिमाग के सामने आ जाती है। प्रत्येक वर्ष 10 फरवरी को वैलेंटाइन्स वीक के टेडी बेयर के दिन पर पार्टनर एक दूसरे को टेडी गिफ्ट करते है लेकिन क्या आप जानते हैं कि टेडी बेयर का नाम कैसे पड़ा किसने इस खिलोने का नाम टेडी बेयर रखा। इसके साथ एक ऐतिहासिक कहानी जुड़ी हुई है। आइए, जानते हैं कि टेडी बेयर की सम्पूर्ण कहानी-

TEDDY DAY STORY IN HINDI

अमेरिका के राष्ट्रपति का दयाभाव

अमेरिका के 26वें राष्ट्रपति थियोडोर रूजवेल्ट (Theodore Roosevelt) से जुड़ी एक कहानी बहुत मशहूर है। 14 नवंबर 1902 को रूजवेल्ट शिकार करने के लिए गए जहा उन्हें एक भी बेयर शिकार के नहीं मिला। तो उनके सहायक होल्ट कोलीर ने रूडवेल्ट का काम आसान करने के लिए एक काले भालू को पेड़ से बांध दिया, लेकिन रूजवेल्ट ने जब यह देखा, तो उन्होंने उसका शिकार करने से इंकार कर दिया क्युकी उन्होंने उस पेड़ से बंधे और तड़पते भालू को देखा और कहा कि जानवरों का शिकार करना नियमों के खिलाफ होता है और आज मै इस भालू का शिकार नहीं करूँगा।

अखबार में छपा था भालू का चित्र

रूजवेल्ट ने इस भालू को नहीं मारा , लेकिन उन्होंने भालू का चित्र कागज़ पर उतार लिया। इसके बाद 16 नवंबर 1902 को एक कार्टून आर्टिस्ट क्लिफोर्ड बेरिमैन ने इस पूरी घटना का कार्टून बना डाला, जो अमेरिका के एक प्रतिष्ठित अखबार में छप गया। इस कार्टून पर मॉरिस मिकटॉम नाम के एक रूसी शख्स की नजर पड़ी, जो ब्रुकलिन में दिन में टॉफियां बेचा करता था और रात को अपनी पत्नी के साथ मिलकर बच्चों के लिए सॉफ्ट टॉय बनाता था।

teddy bear STORY IN HINDI
TEDDY BEAR STORY IN HINDI

रूजवेल्ट के नाम पर बनाया गया सॉफ्ट टॉय

इस कार्टून को देखने के बाद मिकटॉम ने बच्चों के खिलौने के तौर पर कपड़े का एक भालू बनाया और अपनी दुकान पर इससे ‘टेडी बेयर’ के नाम से रखा। उन्होंने इसे टेडी नाम इसलिए दिया क्योंकि थियोडोर रूजवेल्ट का निक नेम टेडी था, और साथ ही उन्होंने एक बेयर यानी भालू की जान बचाई थी। यह टेडी वजन में हल्का और बेहद क्यूट होने के कारण आसानी से लोगों को पसंद आने लगा। वक्त के साथ-साथ टेडी बच्चों की पहली पसंद बन गया और इसे प्यार जताने के लिए कपल्स भी एक-दूसरे को गिफ्ट करने लगे।

तो दोस्तों आज के आर्टिकल में बस इतना ही कमेंट करके बताये यह आर्टिकल आपको कैसा लगा आशा करता हु आपको आर्टिकल पसंद आया होगा ज्यादा से ज्यादा इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ।

नमस्ते मेरा नाम अजीत ठाकुर ज्ञानवर्ल्ड में आपका स्वागत है, मै पिछले 4 सालो से कंप्यूटर सॉफ्टवेयर टीचर हूँ और साथ ही ज्ञानवर्ल्ड वेबसाइट का लेखक हूँ। मेरा उद्देशय और इस वेबसाइट के माध्यम से ज्ञानवर्धक जानकारियां उपलब्ध करवाना है जो विभिन्न विषयो में आपका ज्ञान बढ़ाएगी। उम्मीद करता हूँ आपको यह एजुकेशनल वेबसाइट पसंद आएगी

Related Posts

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha

Mughal Samrajya Ka Sansthapak Kaun Tha: मुग़ल साम्रज्य जिन्होंने भारत पर लगभग 331 सालो तक राज किया मुग़ल साम्राज्य का शासन वर्ष 1526ईo से लेकर वर्ष 1857ईo…

Bhangarh Fort Story In Hindi

Bhangarh Fort Story In Hindi – Bhangarh Story In Hindi

Bhangarh Fort Story In Hindi: कहा जाता है की राजस्थान एक ऐसी जगह है जहाँ कोई न कोई कहानी या राज दफ़न है और आज की यह…

, Doodle For Google 2022 Winner

Doodle For Google 2022 I Doodle For Google 2022 India Winner

Doodle For Google 2022: 14 नवंबर बाल दिवस के दिन पर Google ने Doodle For Google 2022 के विजेता जी घोषणा की। जानिए श्लोक मुखर्जी के बनाये…

करवा चौथ की रात को पति पत्नी क्या करते है

Karva Chauth Ka Vrat Kab Hai 2022 – पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, कथा

Karva Chauth Ka Vrat Kab Hai: कार्तिक मास की शुरुआत होते ही त्योहारों का मौसम शुरू हो जाता है, कार्तिक मास की हर तिथि का महत्व है…

Generation Of Computer In Hindi

Generation Of Computer In Hindi

Generation Of Computer In Hindi: नमस्कार दोस्तों ज्ञानवर्ल्ड में आपका एक बार फिर से स्वागत है आज इस आर्टिकल माध्यम से हम कंप्यूटर की पीढ़ियों के बारे में…

This Post Has 4 Comments

  1. Today, I went to the beach front with my children. I found a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She put the shell to her ear and screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear. She never wants to go back! LoL I know this is entirely off topic but I had to tell someone!

  2. Hello very nice web site!! Guy .. Beautiful .. Wonderful .. I will bookmark your website and take the feeds additionallyKI’m happy to find a lot of useful info right here within the publish, we need work out extra strategies on this regard, thank you for sharing. . . . . .

  3. I wish to express some thanks to you for rescuing me from this trouble. Because of scouting through the internet and getting advice that were not productive, I figured my entire life was over. Being alive without the presence of approaches to the problems you’ve sorted out as a result of the guideline is a crucial case, and ones that would have negatively damaged my career if I had not come across your web site. That talents and kindness in controlling a lot of stuff was very helpful. I am not sure what I would’ve done if I had not come upon such a point like this. I can also at this time look forward to my future. Thanks a lot so much for the expert and result oriented guide. I won’t be reluctant to refer your blog to any person who should get counselling on this matter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *